Doraemon Wiki
Advertisement
Doraemon Wiki

इशुमारु या इश्माल फिल्म डोरेमोन: यह भी था नोबिता वह भी था नोबिता से एक गौण पात्र है। वह कुकू के पापा हैं और ठीओ के युद्ध कला के अध्यापक। उसने जियान को भी युद्ध की कला सिखाई, और जियान उसके प्रिय छात्रों में से एक बन गया।

कहानी[]

नोबिता इशुमारु से तब पहली बार मिला जब वह ठीओ के रूप में भेस बदलकर महल में टहल रहा होता है। इशुमारु उसे खेलने को कहता है, लेकिन हालाँकि नोबिता को युद्ध की कला नहीं आती, इशुमारु उसे मैदान तक ले जाता है। नोबिता एक वार पर ही हार जाता है, और इशुमारु की बेटी कुकू को उसका खयाल रखने को कहा जाता है। नोबिता और कुकू की दोस्ती हो जाती है और नोबिता उसे कैट्सक्रैडल खेलनी सिखाता है और लेदिना के श्राप के बावजूद मायाना पर बारिश करवा देता है।

लेदिना को ठीओ पर शख हे जाता है तो जब असली राजकुमार मायाना वापस आता है और कुकू उसे अपने केट्सक्रैडल की कृति दिखाती है, ठीओ उसे भगा देता है। कुकू बुरा मान जाती है और नदी के घाट पर आ जाती है। तभी लेदिना का चेला उसे पकड़ लेता है। ठीओ उसकी आवाज़ सुनकर दौड़ पड़ता है और तब तक कुकू को पकड़ लिया जा चुका होता है और ठीओ को अकेले लेदिना के उजार मंदिर तक आने का आदेश दिया जाता है। ठीओ अकेले निकल पड़ता है, और जब राज्य में सबको यह बात पता चलती है, हंगामा मच जाता है।

नोबिता को अपनी असलियत उन्हें बतानी पड़ती है, जिसके बाद वे ठीओ को ढूँढ़ने जंगल में जाते हैं। ठीओ उन्हें एक दलदल में फँसा मिलता है, और वे उसे बचा लेते हैं। कुछ समय तक आगे बढ़ते रहने के बाद वे एक गुफा के नीची तरफ पहुँचते हैं, जहाँ से उनका एकमात्र निकलने का रास्ता बैम्बू-कॉप्टर हो सकता था। पर बैम्बू-कॉपटर एक बिजली के झटके की वजह से खराब हो गए थें। जियान दीवारों के सहारे चढ़ने की कोशिश करता है लेकिन लेदिना के एक जाल में फँस जाता है। सब मजबूरी से बैम्बू-कॉप्टर का इस्तेमाल करके लाखों की संख्या में आ रहे सफेद साँपों से बचने की कोशिश करते हैं। इशुमारु को करीब बचा ही लिया जाता है कि उसका गाढ़ा हुआ भाला छूट जाता है और वह नीचे गिर जाता है।

ठीओ के पकड़े जाने के बाद इशुमारु को एक झरने के नीचे बह आते हुए देखा जा सकता है। जब समूह मंदिर तक पहुँचता है और लेदिना रा जश्न पूरा नहीं हो पाता, इशुमारु सबको मंदिर की तबाही के बारे में चेतावनी देकर सबको बचा लेता है। वह बाद में ठीओ के राज्याभिषेक में भी उपस्थित होता है जहाँ वह ठीओ को सूर्य प्रतापी घोषित करता है।

Advertisement