Doraemon Wiki
Advertisement
Doraemon Wiki

अगर हो सके, तो मैं एक अच्छी रोबोट बनकर लौटना पसंद करुँगी।
— शिज़ुका से रीरुरू के आखिरी शब्द

रीरुरू डोरेमोन लॉन्ग स्टोरीज़, उसके १९८६ फिल्म वर्शन डोरेमोन: नोबिता एंड द स्टील ट्रूप्स और उसके २०११ रीमेक डोरेमोन: नोबिता एंड द न्यू स्टील ट्रुप्स ~विंग्ड एंजल्स~ के मुख्य पात्रों में से एक है। उसे एक विदेशी लड़की के रूप में परिचित किया गया था जिससे नोबिता जियान और सुनियो द्वारा सताए जाते समय मिला था। रीमेक में वह एक उज्ज्वल चैती हार, गहरे पेरीविंकल स्कर्ट के साथ पीली पेरीविंकल टैंक टॉप, एक सफ़ेद और हलकी पीली बेल्ट और गुलाबी फर वाले सफ़ेद जूते पहनती है।

दिखावट[]

रीरुरू के सुन्दर गुलाबी बाल हैं और वह एक उज्ज्वल चैती हार, गहरे पेरीविंकल स्कर्ट के साथ पीली पेरीविंकल टैंक टॉप, एक सफ़ेद और हलकी पीली बेल्ट और गुलाबी फर वाले सफ़ेद जूते पहनती है।

व्यक्तित्व[]

रीरुरू शुरुआत में मेकाटोपियाई सेना के प्रति निष्ठावान थी। उसने अपने मासूम दिखावट की मदद से नोबिता को उसे मिरर पूल देने के लिए बरगलाया और हमले के लिए सीमावर्ती बेस बनाया। जब नोबिता और उसके दोस्त उसकी असली पहचान जान जाते हैं, वह अपनी पहचान का खुद भी खुलासा कर उनके विरूद्ध हो जाती है। वह ज़िद्दी थी और उनके शांति की बातों को नज़रन्दाज़ कर देती थी। हालांकि, इंसानियत के बारे में उसके विचारों में काफी बदलाव आया जब शिजुका ने मिरर वर्ल्ड पोर्टल के विस्फोट में आए घावों का इलाज किया।

बाद में, पिप्पो भी इंसानों के प्रति उसकी विचारों को बदलने की कोशिश करता है। मेकाटोपिया सेना के नेताओं ने उससे बलपूर्वक पूछताछ की और अपने विचार बताने पर वह रीरुरू की बातों को रोककर उसे "व्यर्थ" घोषित कर देते हैं। वह अब मेकाटोपिया के विरूद्ध हो जाती है। वह शिजुका के समय में पीछे जाकर वैज्ञानिक द्वारा बनाए गए प्रोग्राम को बदलने के विचार से सहमत होकर उसके साथ चलती है। वैज्ञानिक के मारे जाने के बाद, रीरुरू ने निस्वार्थ रूप से संरचना को फिर से आकार देना शुरू कर दिया, जिससे वह गायब हो गई। पुनर्जन्म से पहले उसके आखिरी शब्द उसके अगले सपने के बारे में एक कबूलना था, यानी, एक अच्छे रोबोट के रूप में पुनर्जन्म लेना।

कहानी[]

Stub
कहानी संस्करण सूचना
यह सेक्शन माँगा के लिए है और फिल्म के विकल्पों को ब्रैकेट में दिया गया है (जहाँ कहानी में अंतर है)।


रीरुरू मेकाटोपिया नाम के एक दूर के ग्रह से धरती पर आती है। उसका मुख्य काम एक बड़े वॉर-मशीन रोबोट जिल (जिसे नोबिता और डोरेमोन ने ज़ैंडा क्रॉस बुलाया) के शरीर के हिस्सों को धरती तक पहुँचाना। पर वह तलाश के बाद रोबोट के हिस्सों का पता नहीं लगा पाती, और ढूंढते हुए वह आधुनिक जापान में आ जाती है। वह नोबिता के घर से उसके विद्यालय तक ढूंढती है और टोक्यो के वासियों से भी पूछती है लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

पहाड़ी इलाके में तलाश करते समय वह नोबिता को विद्युत चुम्बकीय सर्किट से छेड़छाड़ करके सुनियो के नए रोबोट मिक्रोस से बचाती है क्योंकि उन्हें लगता है कि नोबिता के पास एक बहुत बड़ा रोबोट है। वह नोबिता को रीरुरू को मिरर दुनिया के राज़ का खुलासा करने पर मजबूर करती है और नोबिता उसे ज़ैंडा क्रॉस के पास ले जाता है; वह इस बात से आश्चर्यचकित होती है कि वह अपने आप काम नहीं कर पाता। रीरुरू उससे मिरर पूल उधार माँगती है और रोबोट के राज़ को राज़ ही रखने को कहती है, और नोबिता उसके बातों के मानने का फ़ैसला करता है। मिरर पूल की मदद से वह विशाल रोबोट सेना को मिरर दुनिया में बुलाकर एक सीमावर्ती बेस बनाने में सफल रहती है। जब नोबिता और डोरेमोन उसके योजना के बारे में गलती से पता लगा लेते हैं, वह उन्हें नुक्सान न पहुँचाने का वादा कर उन्हें अपने योजना में शामिल करना चाहती है पर वे मना कर देते हैं। जब वे दोनों मिरर दुनिया से भाग रहे होते हैं, मिरर पूल के फैट जाने से दोनों तरफ का पोर्टल बंद हो जाता है जिससे एक बिस्फोट होता है और वह मिरर दुनिया में कैद हो जाती है।

जब नोबिता और डोरेमोन को यह पता लगता है कि रोबोट सेना धरती पर हमला करने वाली है, वे एक योजना बनाते हैं, जिसके हिसाब से वे ज़ैंडा क्रॉस के ब्रेनवेव पैटर्न को बदलकर उसे अपना दोस्त बना लेंगे। वे फिर शिज़ुका के बाथटब से मिरर वर्ल्ड जाते हैं और शिज़ुका बाद में उस शाम वहां आती है। शिज़ुका पहाड़ी इलाके में घूमती है और रीरुरू को क्षतिग्रस्त पाती है। रीरुरू उसका गला घोंटने वाली थी पर मिक्रोस के हमले से रुक जाती है। फिर शिज़ुका रीरुरू के आपत्ति के बावजूद उसे अपने घर ले जाती है, और समूह के आने पर उन्हें सब कुछ बताती है।

सुनियो कहता है कि उन्हें रीरुरू को मार देना चाहिए ताकि रोबोट उनका पीछा न कर पाए पर दुसरे राज़ी नहीं होते क्योंकि यह रीरुरू के लिए काफी निर्दयी होगा। डोरेमोन का विचार यह होता है कि वे रीरुरू को ठीक कर दे और वह यह काम शिज़ुका को सौंपता है। उस रात शिज़ुका और रीरुरू की बात होती है और रीरुरू उसे एमु और इमू, मेकाटोपिया के पहले दो रोबोट, जिन्हे इंसानों को गुलाम बनाने के उद्देश्य से "भगवान" ने बनाया था, के कहानी के बारे में बताती है। शिज़ुका के उलटी बातों पर गुस्से में आकर वह शिज़ुका पर हमला करती है पर घाव के कारण नीचे गिर जाती है। उसका दोबारा इलाज न करना चाहते हुए भी शिज़ुका लौटती है और उसका इलाज करती है।

अगले दिन, डोरेमोन के पास एक और विचार आता है कि वे मेकाटोपिया सेना को मिरर वर्ल्ड में बुला सकते हैं पर उसके लिए रीरुरू के प्रोग्राम को २४ घंटे के लिए बंद रहना पड़ेगा। इसके लिए शिज़ुका को रीरुरू को एक पिल खिलाना होगा, जो वह आसानी से कर लेती है। पर जब वह कमरे से बाहर निकलती है, रीरुरू पिल को निकलकर भाग जाती है। नोबिता को रीरुरू एक सबवे के खंडहर के नीचे मिलती है। वह उसे वापस जाने को कहता है पर वह मना कर देती है। नोबिता उसे और इंकार करने पर गोली मार देने की धमकी देता है, पर आखिर में ऐसा नहीं करता है। रीरुरू नोबिता को पंगु बना देता है (रीमेक में पिप्पो को) और उसे मेकाटोपिया सेना जल्द ही ढून्ढ लेती है। नेता पूछता है कि यहाँ कोई भी इंसान क्यों नहीं है और सारे इंसान कहाँ चले गए। रीरुरू जवाब देने से इंकार कर देती है और अपने योजना को रोकने की माँग करती है पर नेता उसे विद्युत् लगा देती है और कैद होने की सजा दे देती है (रीमेक में मृत्यु की)। रीमेक में जल्लाद उसे मारने ही वाला होता है कि वह एक आखिरी बार योजना को रोकने की माँग करती है। गुस्से में आकर नेता उसे तभी-के-तभी मार डालने का आदेश दे दिया। रीरुरू को नोबिता, जियान और सुनियो (रीमेक में पिप्पो भी) ज़ैंडा क्रॉस की मदद से बचा लेते हैं और शिज़ुका के घर पर ले आते हैं। रीरुरू अपने आप को बंदी बना लेने के लिए समूह से कहती है क्योंकि वह तब भी परेशान थी। उसे डोरेमोन के स्मॉल लाइट से छोटा कर दिया गया और शिज़ुका के पंछी के पिंजरे में बंद कर दिया गया।

जब लड़के आकाइ झील पर लड़ाई के लिए थे, शिजुका को मिक्रोस से एक विचार आया की वे इमू और एमु को बनाने वाले "भगवान" के पास जाकर बात कर सकते हैं, जो एक वैज्ञानिक था जिसने मानवता को त्याग दिया था। वैज्ञानिक ने बताया कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि "प्रतिस्पर्धी प्रवृत्ति" उसने समाविष्ट कर दिया था, जिसने उनके दिमागों को कुछ ज़्यादा ही इंसानों की तरह बना दिया था। वैज्ञानिक फिर प्रोग्राम को बदलने की कोशिश करता है पर नहीं कर पता क्योंकि वह उससे पहले ही मर जाता है। फिर रीरुरू को प्रोग्राम पूरा करना पड़ता है जबकि शिज़ुका वैज्ञानिक का खयाल रख रही थी।

जब प्रोग्राम पूरा हुआ, मिरर दुनिया के सारे रोबोट गायब होने लगे। पर ऐसा ही रीरुरू के साथ भी हो रहा था। वह रीरुरू को बताती है कि वह एक परी-रुपी रोबोट के रूप में पुनर्जन्मित होगी। रीरुरू फिर रोने लगी और यह देखकर आश्चर्यचकित होती है कि एक रोबोट के साथ ऐसा हो रहा है। रीरुरू शिजुका का हाथ पकड़कर उससे वादा करती है कि वे दोस्त रहेंगे, इससे फरक नहीं पड़ता कि वह कहाँ और किस रूप में पुनर्जन्मित होगी, और इसके साथ वह गायब हो गई। शिज़ुका रीरुरू के बलिदान के बारे में बताने समूह तक लौटती है।

कुछ समय बाद, कक्षा में, नोबिता सोच रहा होता है कि रीरुरू पुनर्जन्मित हुई होगी की नहीं, और तभी खिड़की से बाहर रीरुरू को देखा, जो उसकी तरफ हाथ लहराती है। वह आखिर अपने चाहत के परी रूप से पुनर्जन्मित होती है। नोबिता अपने दोस्तों को बताने के लिए दौड़ता है।

रिश्तें[]

नोबिता नोबी[]

रोबोट को ढूंढने के लिए वह नोबिता की मदद लेती है।

पिप्पो[]

पिप्पो रीरुरू का सहायक है। रीरुरू को हमेशा उससे संपर्क करने की ज़रुरत होती है, लेकिन हर बार विफल रहती है। जब रीरुरू घायल थी, पिप्पो ने उसे जगाने की कोशिश की थी, पर शिज़ुका सुनिश्चित करती है कि वह बिलकुल ठीक हो जाएगी।

शिज़ुका मिनामोटो[]

जब शिज़ुका को रीरुरू बुरी तरह से घायल मिलती है, वह अपने घर ले जाकर उसका इलाज करने की कोशिश करती है। दोनों अच्छे दोस्त बन जाते हैं और रीरुरू के गायब हो जाने पर शिज़ुका काफी दुखी हो जाती है।

सामान्य ज्ञान[]

  • रीमेक में उसके बालों के रंग को "सालमन" से गुलाबी में और आँखों को टील नीले से हलके नीले में बदल दिया गया है।
  • शिज़ुका और रीरुरू के बीच का सम्बन्ध डोरेमोन डोरेमोन के फैनों के बीच काफी मशहूर है।
Advertisement